नदी में नहाने गया वृद्ध की डूबा, लापता


epaper

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

नदी में नहाने गया वृद्ध लापता
पथरा थानाक्षेत्र के सेहरी खास गांव का है मामला
गोताखोरों की मदद से तलाश में जुटी पुलिस
संवाद न्यूज एजेंसी
पथरा। मौनी अमावस्या पर राप्ती नदी में स्नान करने गए एक वृद्ध लापता हो गया। पुलिस टीम गोताखोर की मदद से देर शाम तक तलाश में जुटी रही, लेकिन सफलता नहीं मिली।
क्षेत्र के सेहरी घाट निवासी त्रिलोकी दुबे (80) मौनी अमावस्या पर बृहस्पतिवार सुबह लगभग साढ़े बजे गांव के बगल स्थित राप्ती नदी में नदी में नहाने के लिए गए थे। घना कोहरा होने के कारण त्रिलोकी को नहाते समय गहरे पानी में चले गए। जहां पानी अधिक होने के कारण डूबने लगे और बचाओ-बचाओ की आवाज लगाने लगे। नदी के उस पार स्नान कर रही कुछ महिलाओं ने आवाज सुनी तो कोहरे के कारण डरकर भाग गईं। काफी देर तक त्रिलोकी घर वापस नहीं लौटे तो परिजन उन्हें खोजते हुए नदी तट पर पहुंचे। जहां उनके कपड़े और चप्पल पड़े मिले। काफी खोजबीन करने के बाद नहीं मिले तो खोजबीन शुरू की गई। नदी के उस पार की कुछ महिलाओं ने बताया कि जब वह नहा रही थीं तो किसी चीखते हुए सुना था। कोहरा होने के कारण वह लोग डूबने वाले को देख नहीं सकीं। जिसके बाद परिजनों ने सूचना पुलिस को सूचना दी। थानाध्यक्ष रामदरश आर्या ने गोताखोर और मछुवारों को बुलाकर जाल डालकर काफी खोजबीन की। मगर समाचार लिखे जाने तक कोई पता नहीं चला। रामदरश आर्या ने कहा कि लापता बुजुर्ग की तलाश जारी है, पानी ठंडा होने के कारण गोताखोरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

नदी में नहाने गया वृद्ध लापता
पथरा थानाक्षेत्र के सेहरी खास गांव का है मामला
गोताखोरों की मदद से तलाश में जुटी पुलिस
संवाद न्यूज एजेंसी
पथरा। मौनी अमावस्या पर राप्ती नदी में स्नान करने गए एक वृद्ध लापता हो गया। पुलिस टीम गोताखोर की मदद से देर शाम तक तलाश में जुटी रही, लेकिन सफलता नहीं मिली।
क्षेत्र के सेहरी घाट निवासी त्रिलोकी दुबे (80) मौनी अमावस्या पर बृहस्पतिवार सुबह लगभग साढ़े बजे गांव के बगल स्थित राप्ती नदी में नदी में नहाने के लिए गए थे। घना कोहरा होने के कारण त्रिलोकी को नहाते समय गहरे पानी में चले गए। जहां पानी अधिक होने के कारण डूबने लगे और बचाओ-बचाओ की आवाज लगाने लगे। नदी के उस पार स्नान कर रही कुछ महिलाओं ने आवाज सुनी तो कोहरे के कारण डरकर भाग गईं। काफी देर तक त्रिलोकी घर वापस नहीं लौटे तो परिजन उन्हें खोजते हुए नदी तट पर पहुंचे। जहां उनके कपड़े और चप्पल पड़े मिले। काफी खोजबीन करने के बाद नहीं मिले तो खोजबीन शुरू की गई। नदी के उस पार की कुछ महिलाओं ने बताया कि जब वह नहा रही थीं तो किसी चीखते हुए सुना था। कोहरा होने के कारण वह लोग डूबने वाले को देख नहीं सकीं। जिसके बाद परिजनों ने सूचना पुलिस को सूचना दी। थानाध्यक्ष रामदरश आर्या ने गोताखोर और मछुवारों को बुलाकर जाल डालकर काफी खोजबीन की। मगर समाचार लिखे जाने तक कोई पता नहीं चला। रामदरश आर्या ने कहा कि लापता बुजुर्ग की तलाश जारी है, पानी ठंडा होने के कारण गोताखोरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Source

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram