हर कार्यालय में खुलेगी रोजगार हेल्प डेस्क


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हर कार्यालय में खुलेगी रोजगार हेल्प डेस्क
देवरिया। युवाओं को रोजगार के लिए अब भटकना नहीं पड़ेगा। जल्द ही सभी विभाग अपनी योजनाओं के विवरण के साथ गेट पर बैठे दिखाई देंगे। अपनी क्षमता के अनुकूल योजनाओं का चयन कर युवा रोजगार हासिल कर सकेंगे। मिशन रोजगार अभियान के तहत सीडीओ शिवशरणप्पा ने सभी विभागाध्यक्षों को कार्यालय में रोजगार हेल्प डेस्क खोलने का निर्देश दिया है।
प्रत्येक संगठन, प्राधिकरण आदि अपने कार्यालय में रोजगार हेल्प डेस्क बनाएंगे। हेल्प डेस्क पर विभाग से संबंधित रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण तथा अप्रेंटिसशिप की जानकारी दी जाएगी। जिला उद्योग केंद्र व ग्रामोद्योग विभाग में उद्यम शुरू करने के लिए योजनाओं के पंफलेट दिए जाएंगे। युवा कितने की लागत से कौन सा स्वरोजगार शुरू करें, विशेषज्ञ यह टिप्स भी देंगे। श्रम विभाग में निर्माण श्रमिकों के लिए, मनरेगा में ग्रामीण मजदूरों के लिए, सेवायोजन व सीएलसी में कुशल व अकुशल कामगारों के लिए रोजगार के अवसर मुहैया कराए जाएंगे। साथ ही स्वरोजगार पाने के इच्छुक युवाओं का डाटा भी सुरक्षित किया जाएगा। समय-समय पर विभिन्न योजनाओं में लाभार्थी चयन के समय उन्हें सूचित करके बुलाया जाएगा। सीडीओ शिवशरणप्पा ने कहा कि जिन कार्यालयों में रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित नहीं किया गया है वे यथाशीघ्र ही स्थापित कर संबंधित बैनर का छाया चित्र एवं सूचना जिला सेवायोजन अधिकारी, देवरिया को उपलब्ध करा दें।

हर कार्यालय में खुलेगी रोजगार हेल्प डेस्क विज्ञापन

देवरिया। युवाओं को रोजगार के लिए अब भटकना नहीं पड़ेगा। जल्द ही सभी विभाग अपनी योजनाओं के विवरण के साथ गेट पर बैठे दिखाई देंगे। अपनी क्षमता के अनुकूल योजनाओं का चयन कर युवा रोजगार हासिल कर सकेंगे। मिशन रोजगार अभियान के तहत सीडीओ शिवशरणप्पा ने सभी विभागाध्यक्षों को कार्यालय में रोजगार हेल्प डेस्क खोलने का निर्देश दिया है।
प्रत्येक संगठन, प्राधिकरण आदि अपने कार्यालय में रोजगार हेल्प डेस्क बनाएंगे। हेल्प डेस्क पर विभाग से संबंधित रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण तथा अप्रेंटिसशिप की जानकारी दी जाएगी। जिला उद्योग केंद्र व ग्रामोद्योग विभाग में उद्यम शुरू करने के लिए योजनाओं के पंफलेट दिए जाएंगे। युवा कितने की लागत से कौन सा स्वरोजगार शुरू करें, विशेषज्ञ यह टिप्स भी देंगे। श्रम विभाग में निर्माण श्रमिकों के लिए, मनरेगा में ग्रामीण मजदूरों के लिए, सेवायोजन व सीएलसी में कुशल व अकुशल कामगारों के लिए रोजगार के अवसर मुहैया कराए जाएंगे। साथ ही स्वरोजगार पाने के इच्छुक युवाओं का डाटा भी सुरक्षित किया जाएगा। समय-समय पर विभिन्न योजनाओं में लाभार्थी चयन के समय उन्हें सूचित करके बुलाया जाएगा। सीडीओ शिवशरणप्पा ने कहा कि जिन कार्यालयों में रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित नहीं किया गया है वे यथाशीघ्र ही स्थापित कर संबंधित बैनर का छाया चित्र एवं सूचना जिला सेवायोजन अधिकारी, देवरिया को उपलब्ध करा दें।

Source

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram