Home गोरखपुर मोदी-योगी सरकार ने खत्म किया दलाली की आदत- जयप्रकाश

मोदी-योगी सरकार ने खत्म किया दलाली की आदत- जयप्रकाश

32
0

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में 300 श्रमिकों को बांटा टूल किट

गोला गोरखपुर।बासगाँव संदेश। मोदी योगी सरकार की पारदर्शी व्यवस्था से केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याण कारी योजनाओं का पूरा लाभ अब दलाली की प्रवृत्ति से मुक्त होकर गरीब जनता के हक में आता है। दलाली की प्रवृत्ति खत्म होने से सरकारी योजनाओं के लाभार्थी/गरीबों की के हक का पूरा पैसा अब उनके खाते में पहुच रहा हैं।राज्यसभा सदस्य व चिल्लूपार के प्रशासनिक प्रभारी जयप्रकाश निषाद ने बड़हलगंज स्थित एक मैरेज हाल में विश्वकर्मा श्रम सम्मान के लाभार्थियों को टूल किट व प्रमाण वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुये उक्त उदगार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि लघु उद्योग को बढ़ावा दिया जांय। इसके लिए समूह की महिलाओं को ढ़ेर सारी सुविधाएं देने का कार्य भाजपा सरकार ने किया हैं। चिकित्सा व शिक्षा के क्षेत्र में सरकार की योजनाएं तेज गति से पूरी हो रहु हैं।

सड़कों के निर्माण/पुनर्निर्माण का कार्य भी तेजी से चल रहा हैं।इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह ने प्रधानमंत्री मोदी को जन्मदिन की बधाई देते हुये उनके दीर्घायु होने की कामना की। कार्यक्रम का संचालन करते हुये भाजपा एनजीओ प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय संयोजक महेश उमर ने भाजपा सरकार की जनकल्याण कारी योजनाओं की जानकारी दिया। कार्यक्रम को भाजपा नेता सृंजय मिश्र उद्योग उपायुक्त रवि शर्मा, लक्ष्मीनारायण गुप्ता ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष सुनील सिंह स्वतंत्र सिंह श्रीकांत सोनी अष्टभुजा सिंह राजीव पाण्डेय कमलेश पटेल डबलू सोनकर राजकुमार मानस मणि त्रिपाठी गुड्डू मिश्र धर्मेंद्र त्रिपाठी बबलू मद्धेशिया लल्ला पाण्डेय, राजकुमार भारती आदि मौजूद रहे।

इन्हें मिला टूलकिट
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत लाभार्थी प्रीति तिवारी, ज्योति सैनी श्रीदेवी पूनम देवी जैतुन्निशा संगीता साधना मोनिका देवी राकेश यादव रोहिणी मणि रामप्रवेश नाई राजू शर्मा अमन शर्मा रामप्यारे अनुराग कुमार राजू नाई पंकज अनुराग दूबे मुहम्मद ज़ाकिन अभितेक आदि 300 महिला/पुरुषों को उनकी दक्षता के अनुसार टूल किट व प्रमाण पत्र दिया गया। जिसमें 100 दर्जी 100 बढ़ई 50 हलुवाई 25 लोहार व 25 नाई शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here