Home गोरखपुर मूसलाधार बारिश से ब्रह्मपुर क्षेत्र में जनजीवन अस्त व्यस्त, खंभे और पेड़...

मूसलाधार बारिश से ब्रह्मपुर क्षेत्र में जनजीवन अस्त व्यस्त, खंभे और पेड़ गिरे, तश्वीरों में देखें तबाही

64
0

 

ब्रह्मपुर गोरखपुर। बाँसगाँव सन्देश। आंधी के साथ तेज बारिश के कारण ब्रह्मपुत्र क्षेत्र में बिजली के खंभे व पेड़ गिर गए। जिससे कई जगह आवागमन तो बाधित हो गया है। इसी क्षेत्र के अमहिया गांव के कोैशलानंद सदानंद सहित कई लोगों के घरों एवं पेड़ों को काफी नुकसान पहुंचा है। खेतों के किनारे लगे लगभग पचासो पेड़ चक्रवाती तूफान के चलते उखड़ गए। खेत में बना मुर्गी फार्म भी गिरकर ध्वस्त हो गया है।

मुसलाधार बारिश से गिरा विद्युत पोल

लगातार दो दिनों से मूसलाधार बारिश के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। आलम यह है कि बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ ही है। सबसे ज्यादा संकट पशुपालकों के सामने हैं इंसान भी किसी तरह से अपना पेट भर ले रहे हैं लेकिन जानवरों के लिए काफी दिक्कत पैदा हो गई है।

गिरा विद्युत पोल

शनिवार को सुबह आए तुफानी बारिश से अमहिया गांव के बाहर 56 नंबर ट्यूबवेल के पास कौशलानंद के बाग में तूफान की वजह से आम सागौन कटहल के पेड़ उखड़ गए खेत में मुर्गा मुर्गी फार्म गिरने से ध्वस्त हो गया। बगल से 33000 वोल्ट की लाइन के खंभे उखड़ गए । 11000 वोल्ट बिजली के आधा दर्जन खंबे उखड़ कर गिर गए हैं। विद्युत व्यवस्था बाधित होने से चारों तरफ अंधेरा छाया हुआ है। लोगों को बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। पानी और मोबाइल चार्ज को लेकर खासा परेशान हैं।

सड़क पर विद्युत पोल गिरने से सप्लाई बाधित

गांव के अगल-बगल भी कई लोगों के सैकड़ों पेड़ हवा के झोंके से उखड़ गए। इसके बावजूद सबसे बड़ा संकट किसानों के सामने उत्पन्न हो गया है खेतों में धान की फसलें पक गई हैं। कईयों किसानों की फसलें काटने को तैयार थी लेकिन इस भारी बारिश से किसानों की मंशा पर पानी फेर दिया। धान की फसल पूरी तरह जलमग्न हो गई है। अगर इसी तरह 4 दिन और बारिश हुआ तो धान की फसल खेत में ही सड़ जाएगी । किसानों के सामने मुनाफा तो दूर लागत भी निकालना मुश्किल होगा।

सड़क किनारे गिरा पेड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here